धार पुलिस और क्राइम ब्रांच ने वाहन चोर अंतर्राजीय गिरोह का किया भांडाफोड़

धार पुलिस तथा क्राइम ब्रांच की विशेष टीम ने अंतर्राजीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफश किया टीम ने गिरोह के चार सदस्यों को हिरासत में लिया है तथा उनसे चोरी की ग्यारह बाइक बरामद की है जिनकी बाज़ार कीमत दस लाख रूपये बताई जा रही है पुलिस को अभी भी गिरोह के चार सदस्यों की तलाश है। धार पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार सिंह लगातार इस बात से चिंतित थे की धार जिले में रोजाना दो गाड़िया चोरी हो थी और शातिर चोर अलग अलग जगहों पर निशाना लगा कर पुलिस की नाक में दम कर रहे थे जिसके लिए एसपी के द्वारा धार जिले में मोटरसाइकिल चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ राय सिंह नरवरिया एवं सचिन शर्मा तथा क्राइम ब्रांच प्रभारी संतोष पांडे को उचित निर्देश दिया जिसके बाद टीम ने प्रभावी कार्यवाही करते हुए बाइक चोर गिरोह के चार सदस्यों को हिरासत में लिया।

 

बता दे क्राइम ब्रांच धार को सूचना मिली थी कि टांडा थाना क्षेत्र कुछ युवक जो वाहन चोर गिरोह के सदस्य चोरी की महंगी मोटरसाइकिल लेकर घर बेचने के लिए आने वाले हैं जिनके पास बिना नंबर की लाल एवं काले रंग की Pulsar 220cc की मोटरसाइकिल है। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा क्राइम ब्रांच धार के निर्देशन में एवं धार थाना कोतवाली की टीम के सदस्यों ने मिलकर निगरानी शुरु की पुलिस को जो जानकारी मिली थी उस वाहन पर कड़ी निगरानी पुलिस ने शुरु कर दी और ऐसे तमाम व्यक्तियों पर नजर रखी जो संदिग्ध नजर आ रहे थे धार की जिला जेल रोड के पास धार रिंग रोड पर पुलिस के द्वारा नाकाबंदी कर वाहन चेकिंग की गई जिस पर कुछ देर बाद एक बिना नंबर की लाल एवं काले रंग की Pulsar 220cc जो मुखबिर की सूचना पर पुलिस को जानकारी मिली थी उस गाड़ी को आते हुए देखा परंतु गाड़ी पर सवार दोनों गाड़ी छोड़ भागने लगे क्राइम ब्रांच तथा थाना कोतवाली की टीम ने घेराबंदी कर मोटरसाइकिल के सामने वाहन मौके पर ही जप्त कर आरोपी वाहन को थाना कोतवाली भेज दिया इसके बाद पुलिस ने पूछताछ करने पर उक्त आरोपियों ने अपना नाम और बिशन पिता अकरम सिंगार भील उम्र 25 साल निवासी ग्राम गेट्टा पटेल फालिया और महेश पिता अकरम सिंह उम्र 23 वर्ष निवासी ग्राम ग्राम गेट्टा पटेल थाना टांडा धार का होना बताया. शातिर चोर मोटरसाइकिल महाराष्ट्र के नंदुरबार जिले से चुराकर लाये थे क्राइम ब्रांच की टीम ने पूछताछ की जिसमें उन्होंने अपने अन्य साथियों के नाम भी बताएं जो वाहन चुराने में उनका साथ देते थे उन्होंने बताया संजय अजय वीर सिंह और फका उनके मित्र हैं जो कि वाहन पुराने में उनकी मदद करते थे पुलिस पूछताछ में पुलिस को जानकारी मिली कि अभी तक इन आरोपियों ने महाराष्ट्र मध्य प्रदेश व गुजरात से तकरीबन 50 से 60 महंगी मोटरसाइकिल चुराई है तथा मोटरसाइकिल को उनके ही परिचित शुभम पिता प्रताप भावर 19 साल निवासी भलगांवडी थाना तिरला तथा नीलेश पिता भवर लाल भील उम्र 19 साल निवासी ग्राम उमरिया थाना नौगांव को बताया पुलिस ने चोरी करने वाले दो आरोपियों को तथा खरीदने वाले दो आरोपियों को हिरासत में लिया तथा इनसे 11 मोटरसाइकिल बरामद की है जिन का बाजार मूल्य लगभग दस लाख रुपए बताया जा रहा है पुलिस ने शेष आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की तो पता चला की ये अपने महंगे शौक पुरे करने के लिए वाहन चुराते थे तथा अपने परिचित को कम कीमत पर बेच देते थे ये शातिर चोर जिस गाडी की डिमांड आती थी उसको ही चुराते थे। धार एसपी ने क्राइम ब्रांच तथा पुलिस के अधिकारियों की सराहना की जिन्होंने गिरोह का भांडा फोड़ किया साथ ही उचित इनाम देने की घोषणा भी की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *